ओमिक्रॉन और डेल्टा के बाद कोरोना वायरस के नए वेरिएंट डेल्टाक्रॉन ने दी दस्तक, ब्रिटेन में सामने आया पहला मामला

Spread the love

डेल्टा ‌‌ और ओमिक्रॉन के बाद एक नए वैरीअंट डेल्टाक्रॉन ने विश्व में दस्तक दी है।ब्रिटेन में डेल्टा क्रोन का कुछ मामले सामने आए हैं जिसमें एक बार फिर से हेल्थ एक्सपर्ट और लोगों की चिंता बढ़ा दी है।

कोरोना वायरस के एक के बाद एक नए वेरिएंट सामने आ रहे हैं। डेल्टा और ओमिक्रॉन के बाद एक नया वेरिएंट डेल्टाक्रॉन सामने आ गया है, यह डेल्टा और ओमिक्रॉन से मिलकर बना एक हाइब्रिड स्ट्रेन है। ब्रिटेन में डेल्टाक्रॉन के कुछ मामले सामने आए हैं, जिसने एक बार फिर एक्सपर्ट और लोगों की चिंता बढ़ा दी है।

यूके की हेल्थ सिक्योरिटी एजेंसी (UKHSA)का कहना है कि वे अभी इसके बारे में चिंतित नहीं है, क्योंकि अभी इसके मामले कम है। जानकारी के मुताबिक, UKHSA के एक्सपर्ट यह भी नहीं जानते कि कोरोना वायरस का ये नया वेरिएंट कितना संक्रामक है। यहां तक कि उन्हें अभी इस वैरीअंट के लक्षण तक भी नहीं पता है और ना ही यह पता है कि वैक्सीन इसके खिलाफ कितनी असरदार होगी। हालांकि रोग विशेषज्ञ प्रोफेसर पॉल हंटर ने डेली मेल के हवाले से कहा है कि इससे ज्यादा खतरा पैदा नहीं होगा।क्योंकि यूके में डेल्टा और ओमिक्रॉन के खिलाफ पहले से ही एंटीबॉडीज मौजूद है।

डेल्टा और ओमिक्रॉन का हाइब्रिड वेरिएंट है डेल्टाक्रॉन

एक्सपर्ट्स की माने तो ये एक सुपर सुपर-म्यूटेंट वायरस, जिसका वैज्ञानिक नाम BA.1 + B.1.617.2 है। एक्सपर्ट्स ने कहा है कि डेल्टा और ओमिक्रॉन से मिलकर बना एक हाइब्रिड स्ट्रेन है, जिसे सबसे पहले साइप्रस के रिसर्चर्स ने पिछले महीने खोजा था। उस समय तो वैज्ञानिकों ने इसे लैब में हुई एक तकनीकी गलती समझा था। लेकिन अब इसके ब्रिटेन में केस सामने आ रहे हैं।

डेल्टाक्रॉन पर WHO ने क्या कहा ?

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने बताया कि किसी व्यक्ति के लिए SARS-CoV-2 के विभिन्न वेरिएंट से संक्रमित होना संभव है। इसके कई उदाहरण हैं। लोग इस महामारी के दौरान इन्फ्लूएंजा और कोविड -19 दोनों से संक्रमित थे। डब्ल्यूएचओ की मारिया वान केरखोव ने पिछले महीने ट्वीट किया था कि ‘डेल्टाक्रॉन जैसे शब्दों का इस्तेमाल न करें।ये शब्द वायरस / वैरिएंट के संयोजन का संकेत देते हैं और ऐसा नहीं हो रहा है।

 633 total views,  1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published.