30 अप्रैल को लगने जा रहा है साल का पहला सूर्य ग्रहण, जानें उस समय क्या करें और क्या नहीं

Spread the love

इस साल का पहला सूर्यग्रहण अप्रैल महीने की ३० तारीख को लगने जा रहा है। इस दिन वैशाख अमावस्या भी है. शनिवार दिन होने के कारण इसे शनि अमावस्या भी कहते हैं. ज्यादातर समय सूर्य ग्रहण अमावस्या तिथि को लगता है. हालांकि, सूर्य ग्रहण को धार्मिक तौर पर अशुभ माना जाता है, लेकिन वैज्ञानिक दृष्‍टिकोण से इसे खगोलीय घटना के रूप में देखा जाता है। सूर्य ग्रहण 2022 के दौरान सूतक काल पर खगोलविदों और ज्‍योतिषियों की खास नजर होती है। ग्रहण के समय आम तौर पर गर्भवती महिलाओं को खास एहतियात बरतने की सलाह दी जाती है। बुजुर्ग और बच्‍चों की भी इस दौरान घर से बाहर निकलने की मनाही होती है।

सूर्य ग्रहण 2022 इस समय लगेगा

30 अप्रैल को लगने जा रहा साल का पहला सूर्य ग्रहण मध्यरात्रि 12 बजकर 15 मिनट से शुरू होकर सुबह 4 बजकर 7 मिनट तक जारी रहेगा। इस बार आंशिक सूर्यग्रहण लगेगा। इस स्थिति में चंद्रमा सूर्य को आंशिक रूप से ढकेगा।

यहां नजर आएगा साल का पहला सूर्य ग्रहण

साल 2022 का पहला सूर्यग्रहण भारत में नजर नहीं आएगा। यह दक्षिण अमेरिका के दक्षिणी पश्चिमी हिस्से, प्रशांत महासागर, अंटार्कटिका और अटलांटिक क्षेत्र में नजर आएगा। भारत में यह सूर्य ग्रहण नहीं दिखेगा, इसलिए यहां ग्रहण का सूतक काल (Sutak Kaal) प्रभावी नहीं रहेगा।

 

ग्रहण के दिन जरूर करें ये काम

खाने की चीजों पर डालें तुलसी : मान्यता है कि दूध, घी, तेल, पनीर, अचार, मुरब्बा और भोजन सामग्रियों में तिल, कुश या तुलसीपत्र डाल देने से ये ग्रहण काल में दूषित नहीं होते. सूखे खाद्य पदार्थ में तिल या कुशा डालने की जरूरत नहीं होती है.

जरूर करें सूर्य की उपासना : ग्रहणकाल में भगवान सूर्य की उपासना के लिए आदित्य हृदय स्तोत्र, सूर्याष्टक स्तोत्र आदि सूर्य स्तोत्रों का पाठ व गुरु मंत्र का जाप करना चाहिए. ग्रहणोंपरांत स्नान-दान का भी महत्व है. ग्रहण जहां जितने समय तक दिखाई देता है, वहीं उसकी मान्यता उतने काल तक ही होती है.

 

 

 612 total views,  1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *