कोरोना से बेहाल ब्राजील ने भारतीय वैक्सीन लेने से किया इनकार

कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बावजूद ब्राजील ने भारतीय वैक्सीन के इस्तेमाल से इनकार कर दिया है. इसके पीछे ब्राजील का तर्क है कि भारत बायोटेक की कोरोना वैक्सीन गुड मैन्युफैक्चरिंग प्रैक्टिस नियमों के अनुरूप नहीं है. ब्राजील ने कुछ वक्त पहले कोवैक्सिन की 2 करोड़ डोज खरीदने के लिए भारत बायोटेक के साथ करार किया था. हालांकि, अब उसने एकदम से इस वैक्सीन के आयात से इनकार कर दिया है.

पहले रिक्वेस्ट, फिर रोक
टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, ब्राजील की नेशनल हेल्थ सर्विलांस एजेंसी ने अपनी वेबसाइट पर बताया है कि उसे सरकार की तरफ से एक अनुरोध प्राप्त हुआ था, जिसमें भारत निर्मित वैक्सीन की 2 करोड़ डोज के आयात की बात कही गई है. लेकिन बाद में प्रमुख दस्तावेजों के अभाव का हवाला देते हुए इस पर रोक लगा दी गई. बता दें कि भारत बायोटेक ने 8 मार्च को ब्राजील में वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग के लिए आवेदन किया था.

कैंसिल नहीं हुआ है आर्डर
ब्राजील सरकार की तरफ से कहा गया है कि वैक्सीन निर्माण के लिए गुड मैन्युफैक्चरिंग प्रैक्टिस का पालन नहीं किया गया है, जिस कारण कोवैक्सीन के आयात को मंजूरी नहीं दी जा सकती. वहीं, भारत बायोटेक ने कहा है कि इस मुद्दे पर ब्राजील सरकार के साथ चर्चा जारी है और ब्राजील द्वारा दिया गया ऑर्डर अभी रद्द नहीं हुआ है.

कंपनी ने कही ये बात
भारत बायोटेक का कहना है कि जांच के दौरान बताई गईं जरूरतों को पूरा किया जाएगा और जल्द ही इस मामले को निपटा लिया जाएगा. कंपनी ने कहा कि उसने 40 देशों में इमरजेंसी यूज ऑथराइजेशन सबमिट किया है. कई देशों ने पहले ही ऑथराइजेशन जारी कर दिया है और आपूर्ति प्रक्रिया शुरू हो गई है. गौरतलब है कि भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के सहयोग से भारत बायोटेक द्वारा निर्मित कोवैक्सिन को जनवरी में राष्ट्रीय दवा नियामक द्वारा देश में आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी दी गई थी.

 2,962 total views,  1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *