महाराष्ट्र: भंडारा के जिला अस्पताल में आग, 10 नवजात जिंदा जले

महाराष्ट्र के भंडारा में जिला अस्पताल में आग लगने से 10 बच्चों की मौत हो गई है। इन बच्चों की उम्र एक दिन से लेकर 3 महीने तक बताई जा रही है। खबर के मुताबिक, यह आग बीमार नवजातों के लिए बने आईसीयू यानी (SNCU) में लगी। आग रात 2 बजे लगी। अभी तक की जानकारी के मुताबिक, आग से 7 बच्चों को सुरक्षित बचा लिया गया है। आग की वजह फिलहाल स्पष्ट नहीं है लेकिन कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में शॉट सर्किट को आग का कारण बताया जा रहा है।

जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉक्टर प्रमोद खंडाते के मुताबिक, अस्पताल के सिक न्यूबॉर्न केयर यूनिट (SNCU) में रात 2 बजे यह आग लगी। आग में 10 बच्चों ने झुलस कर दम तोड़ दिया और 7 बच्चों को सुरक्षित बचा लिया गया है।

प्रमोद खंडाते के मुताबिक, वहां मौजूद नर्स को धुआं दिखा। जब नर्स ने वॉर्ड का दरवाजा खोला तो चारों तरफ धुआं फैला हुआ था। नर्स ने तुरंत अस्पताल के अधिकारियों को सूचित किया और फायर ब्रिगेड को बुलाया गया। फायर ब्रिगेड ने मौके पर पहुंच बचाव कार्य किया लेकिन तब तक 10 बच्चों की जान दम घुटने से जा चुकी थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भंडारा के जिला अस्पताल में देर रात शॉर्ट सर्किट की वजह से बच्चों के वॉर्ड में आग लगी। इस वॉर्ड में कुल 17 बच्चे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *