बड़ी लापरवाही: एक आधार कार्ड दो लोगों को हुआ जारी, 10 साल के बच्चे की उम्र लिख दी 70

uidai-issue-document-list-for-update-date-of-birth-and-address-in-aadhaar-card

देश में किसी के लिए भी आधार कार्ड उसके लिए सबसे जरूरी दस्तावेज हो गया है. आधार कार्ड को शायद इसी लिए आम आदमी का आधार कहा जाने लगा है. आधारकार्ड को बनवाने के बाद सिर्फ इसमें नाम व पते की गलतियों में परिवर्तन किया जा सकता है. वह भी ऐसे संशोधन जो भूलवश गलत दर्ज हो जाते है . आधार कार्ड का नम्बर नहीं बदला जा सकता है, लेकिन बाराबंकी में एक 10 साल के बच्चे की उम्र 70 साल की दिख रही है. यह देख उसके परिजन परेशान हैं. यह ऐसा मामला है, जिसमें एक बच्चे का आधार कार्ड नम्बर दो लोगों को जारी कर दिया गया. इसके बाद बच्चे की उम्र आधार कार्ड में 70 साल दिखाई जा रही है. आधार कार्ड में हुई इस गलती के बाद अब जन्मतिथि संशोधन में अभिभावकों को परेशान होना पड़ रहा है.
जानकारी के अनुसार बाराबंकी निवासी प्रसून मिश्रा ने अपने बच्चे का आधार कार्ड 2018 में बनवाया था. इस प्रक्रिया के बाद उसके आधार कार्ड की प्रोसेस पूरी तो हो गई, लेकिन उसकी हार्ड कॉपी उसके घर नहीं पहुंची. इसके बाद वह जब शनिवार को अपना आधारकार्ड प्रिन्ट करवाने जनसेवा केन्द्र पहुंचे तो वह हैरान रह गए. हैरान इसलिये, क्योंकि उनके बच्चे का आधार नम्बर किसी और को भी एलॉट हो चुका है. जबकि एक व्यक्ति का आधार नम्बर एक ही होता है. आधार में सब संशोधन तो हो सकता है, लेकिन आधार नम्बर संशोधित नहीं होता. वह एक व्यक्ति का एक ही बार जारी होता है और जीवन भर वही रहता है.

अपने बच्चे का आधार कार्ड प्रिन्ट कराने जनसेवा केन्द्र आये अधिवक्ता प्रसून मिश्रा ने बताया कि उनके बच्चे के आधारकार्ड का प्रिन्ट नहीं निकल रहा है. पता करने पर ज्ञात हुआ कि उनके बच्चे के आधारकार्ड के नम्बर को किसी और को भी एलॉट कर दिया गया है. अब बच्चे की उम्र आधारकार्ड में 70 वर्ष दर्शाई जा रही है. जिस कारण आगे उन्हें बच्चे के एडमिशन कराने, बैंक खाते को खुलवाने और जीवन बीमा आदि में परेशानी हो सकती है. वह समझ नहीं पा रहे हैं कि आखिर एक नम्बर दो लोगों को कैसे जारी कर दिया गया. आधार कार्ड में हुई इस लापरवाही पर सब हैरान हैं.

 251 total views,  6 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *