Amazon पर बिक रही थी राधा-कृष्ण की अश्लील पेंटिंग, दोनों को दिखाया नग्न

Spread the love

 

एक बार फिर ई-कॉमर्स कंपनी Amazon सोशल मीडिया पर यूजर्स के गुस्से का निशाना बनी है. बता दें कि Amazon की एक गलती की वजह से इस वक्त सोशल मीडिया पर बॉयकॉट Amazon ट्रेंड कर रहा है. दरअसल ई-कॉमर्स कंपनी Amazon पर हिंदू देवी-देवताओं का अपमान करने और हिंदुओं की भावनाओं को आहत करने का आरोप लगा है. अब ये आरोप क्या है और Amazon ने कैसे किसी विशेष धर्म के लोगों को आहत किया है आइए जानते हैं.

भगवान की आपत्तिजनक तस्वीर की बिक्री

Amazon बहुत बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी है. इसपर दुनिया की हर चीज उपलब्ध है. अब हाल ही में जन्माष्टमी का त्योहार था जिसकी वजह से लोग शॉपिंग कर रहे थे. आरोप है कि Amazon के साईट पर राधा कृष्ण की अश्लील तवीर भी बेची जा रही थी. अब हिन्दू संगठन को इसकी भनक लग गई और उन्होंने कंपनी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. हिन्दू संगठन ने कंपनी के खिलाफ FIR भी करवाई है जिसमें जल्द से जल्द इस तस्वीर को हटाने की मांग की गई है.

कंपनी ने साईट से तस्वीर को हटाया

कंपनी ने खुद को विवादों में घिरता देख प्लेटफॉर्म से तस्वीर को हटा दिया है. बता दें भगवान श्रीकृष्ण और राधे रानी की अश्लील पेंटिंग बेचने वाला Amazon बॉयकॉट ट्रेंड के बाद बैकफुट पर आ गया है और उसने उस पेंटिंग को हटा दिया गया है। हालाँकि, इसके बाद भी लोगों का गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहा है। ‘हिन्दू जाग्रति ऑर्गेनाइजेशन’ ने इसे हिन्दुओं की जीत करार दिया है। Amazon ने विरोध के बाद भले ही चुपचाप इसे हटा दिया हो, लेकिन कंपनी की तरफ से अब तक इस पर किसी प्रकार की माफ़ी नहीं माँगी गई है।

इस सम्बन्ध में ‘हिन्दू जनजागृति समिति’ ने कार्रवाई की माँग की है, जिसके बाद लोगों ने भी Amazon के विरोध में ट्वीट्स किए। संगठन ने बेंगलुरु के सुब्रमण्या नगर पुलिस थाने में ऑनलाइन रिटेल जायंट के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई है। मेमोरेंडम में कार्रवाई की माँग की गई है। इस पेंटिंग को ‘Exotic India’ की वेबसाइट पर भी बेचा जा रहा था। अजीब बात ये है कि ये ‘जन्माष्टमी सेल’ के तहत बेचा जा रहा था। Amazon पर इसे बेंगलुरु का ‘Inkologie’ नामक विक्रेता बेच रहा था।

विरोध के बाद Amazon और ‘Exotic India’, दोनों ने ही इस पेंटिंग को साइट पर से हटा दिया गया है। लोगों ने Amazon के विरोध में हैशटैग भी चलाया। ‘Exotic India Art’ ने अपने बयान में कहा, “ये हमारे संज्ञान में लाया गया है कि एक आपत्तिजनक तस्वीर को हमारी वेबसाइट पर अपलोड किया गया है। हमने तुरंत ही इसे हटा दिया है। हम गंभीरता से माफ़ी माँगते हैं। कृपया हमारा बॉयकॉट न करें। हरे कृष्णा!”


हिन्दू संगठन ने इसके लिए संस्था का धन्यवाद देते हुए कहा है कि उसने तुरंत कार्रवाई की। साथ ही सलाह दी कि साइट पर उपलब्ध ऐसे अन्य आइटम्स को भी हटाया जाए और अच्छे से जाँच की जाए। जिस पेंटिंग को लेकर विवाद हुआ है, उसमें भगवान श्रीकृष्ण और राधे रानी को नग्न और आपत्तिजनक अवस्था में दिखाया गया है। हिन्दुओं ने कहा कि पूर्ण रूप से बहिष्कार ही इसका उपाय है, क्योंकि जब तक आर्थिक मार नहीं पड़ेगी तब तक हिन्दू विरोधी कंटेंट्स वाले नहीं सुधरेंगे।

 

 

 242 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *