बिगड़ती वायु गुणवत्ता के चलते NCR में निर्माण गतिविधियों पर दोबारा से प्रतिबंध

Spread the love

बिगड़ती वायु गुणवत्ता को देखते हुए दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में निर्माण गतिविधियों पर केंद्र ने फिर से प्रतिबंध लगा दिया है. पर्यावरण एवं वन मंत्रालय (एमओईएफ) ने एक हलफनामे में प्रधान न्यायाधीश एनवी रमण की अध्यक्षता वाली पीठ को बताया कि वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग ने एनसीआर की राज्य सरकारों और दिल्ली सरकार को इसके 24 नवंबर के आदेश के अनुसार अपवादों के साथ निर्माण गतिविधियों पर प्रतिबंध सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है.

शीर्ष अदालत ने अपने 24 नवंबर के आदेश में दिल्ली और एनसीआर में निर्माण गतिविधियों पर फिर से प्रतिबंध लगा दिया था और राज्यों को निर्देश दिया था कि वे श्रमिकों को प्रतिबंध की अवधि के लिए श्रम उपकर के रूप में एकत्र किए गए धन से आर्थिक मदद प्रदान करें.

एक रोडमैप तैयार करने के लिए कहा गया है

दिल्ली-एनसीआर की वायु गुणवत्ता में सुधार के लिए तत्काल कदम उठाने के अनुरोध वाली याचिका के जवाब में यह हलफनामा दाखिल किया गया है.

हलफनामे में कहा गया है, ’’आयोग ने दिल्ली-एनसीआर में वायु गुणवत्ता से संबंधित मानकों के ऐतिहासिक वैज्ञानिक आंकड़ों के अलावा वायु गुणवत्ता, सांख्यिकीय मॉडल को प्रभावित करने वाली मौसम संबंधी स्थितियों के क्षेत्र में ज्ञान और आंकड़े रखने वाले ’विशेषज्ञ समूह’ का गठन किया है. हलफनामे के अनुसार मामले की तात्कालिकता को देखते हुए विशेषज्ञ समूह को तुरंत अपनी बैठक बुलाने और सौंपे गए कार्यों को पूरा करने के वास्ते एक रोडमैप तैयार करने के लिए कहा गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.