धर्म बदल लोगे तो उम्मीद से ज्यादा मदद मिलेगी, UP में धर्मांतरण की पाठशाला वाले IAS का मंत्र

Spread the love

उत्तर प्रदेश में धर्मांतरण की पाठशाला चलाने वाले IAS इफ्तिखारुद्दीन का कट्टरता को समर्थन करने वाला वीडियो सामने के बाद बड़े खुलासे हुए हैं। उन पर कल्याणपुर बस्ती के लोगों ने आरोप लगाया है कि उन्होंने लोगों के ऊपर जबरन धर्म परिवर्तन का दवाब बनाया था।

जानकारी के मुताबिक शनि मंदिर चलाने वाले रॉबी शर्मा और सीटीएस बस्ती के निर्मल ने इफ्तिखारुद्दीन पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि मेट्रो की डीपीआर में इफ्तिखारुद्दीन ने गलत तरीके से लोगों की जमीन शामिल करवा ली थी। जब पीड़ित उनसे मिलने पहुंचे थे, तो उनको भगा दिया गया।

इसके बाद उनके कुछ आदमियों ने बस्ती में आकर धर्मांतरण करने पर मदद करने की बात कही। उन लोगों ने मो. इफ्तिखारुद्दीन की लिखी किताब भी बांटी थी।IAS इफ्तखारुद्दीन के साथ वीडियो में धर्म परिवर्तन की अपील कर रहे युवक की पहचान चौबेपुर निवासी मोइनुद्दीन के रूप में हुई है। सीटीएस बस्ती के लोगों ने बताया कि मोइनुद्दीन ही बस्ती के लोगों पर धर्मांतरण का दबाव बना रहा था। धर्मांतरण के लिए प्रभावित करने के लिए उसने रुपए-पैसे से लेकर बच्चों को मुफ्त शिक्षा, मकान समेत अन्य मदद करने का भरोसा दिलाया था।

उन्होंने लालच दिया था कि इसके बाद उनकी जमीन वापस मिल जाएगी। उम्मीद से ज्यादा मदद होगी। इतना ही नहीं, पीड़ितों से सुअर खाना बंद करने की भी बात कही गई थी। इसके बाद पब्लिक ने उनका विरोध भी किया था, लेकिन कहीं सुनवाई नहीं हुई थी। अब मामला सामने आने के बाद पब्लिक भी सामने आ गई है।

IAS की धार्मिक किताब ‘शुद्ध भक्ति’ भी आई सामने

मुस्लिम धर्म के लिए प्रेरित करने वाली सीनियर आईएएस की लिखी एक किताब शुद्ध भक्ति भी सामने आई है। किताब के ऊपर लिखा है- या अल-कुरआन सूरह अल-बकरा आयत संख्या-21 का वर्णन इस किताब में है।

 465 total views,  1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *