1 अक्टूबर से लागू हो रहे नए नियम, जानिए आपकी जेब पर क्या असर डालेंगे ये नियम

Spread the love

अगले महीने की पहली तारीख यानी 1 अक्टूबर से बैंक से लेकर रोजमर्रा से जुड़े कई नियम बदल जाएंगे। इन बदलावों का असर आम आदमी से लेकर खास तक के जीवन पर होगा।  अगर आप पुराने नियम के आदी हैं तो नए नियमों के बारे में पहले ही जानकारी ले लें. इससे काम बिगड़ने से बेवजह की देरी होने से बच जाएंगे. नए नियमों में पेंशन से लेकर बैंक चेक बुक तक के रूल शामिल हैं. 1 अक्टूबर की शुरुआत होते ही बैंक, वेतन, पेंशन, रसोई गैस की कीमतों से लेकर कई बदलाव होंगे, जो आपकी जेब पर असर डालेंगे. अगले महीने से रोजमर्रा की कई चीजें बदल जाएंगी और ये बदलाव अलग -अलग होंगे.

पेंशन रूल में बदलाव

1 अक्टूबर से पेंशन रूल में बदलाव होने जा रहा है. यह नियम 80 साल से ज्यादा के पेंशनर के लिए है. 80 साल या उससे ज्यादा उम्र के पेंशनर को डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट जमा करने की सुविधा मिलेगी. देश के अलग-अलग पोस्ट ऑफिस में 80 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्ग जीवन प्रमाण सेंटर में डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट जमा करा सकेंगे. पोस्ट ऑफिस को इसक काम के लिए 30 नवंबर तक का समय दिया गया है ताकि वे जीवन प्रमाण सेंटर से जुड़ी आईडी को एक्टिवेट कर लें. अगर आईडी बंद हैं तो 30 नवंबर तक फिर उसे चालू करा लेना है. इसी की बदौलत डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट का काम होगा.

चेक बुक नियम

1 अक्टूबर से तीन बैंकों का चेकबुक और MICR कोड अमान्य हो जाएगा. इसमें ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC), यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और इलाहाबाद बैंक हैं. जिनका हाल ही में अन्य बैंकों के साथ विलय हुआ है. बैंकों के विलय से खाताधारकों के अकाउंट नंबर, IFSC और MIC कोड में बदलाव के कारण बैंकिंग सिस्टम भी 1 अक्टूबर, 2020 से पुरानी चेकबुक को रिजेक्ट कर देगा.

म्यूचुअल फंड निवेश में बदलाव होगा

बाजार नियामक सेबी ने म्यूचुअल फंड निवेश के नियम में बदलाव किया है। नए नियम के मुताबिक एसेट अंडर मैनेजमेंट, म्यूचुअल फंड हाउस में काम करने वाले जूनियर कर्मचारियों पर लागू होगा। 1 अक्टूबर 2021 सेएमएससी कंपनियों के जूनियर कर्मचारियों को अपनी सैलरी का 10 फीसदी हिस्सा म्यूचुअल फंड के यूनिट्स में निवेश करना होगा। जबकि 1 अक्टूबर 2023 तक फेजवाइज यह सैलरी का 20 फीसदी हो जाएगा।

ऑटो डेबिट – ग्राहकों की इजाजत जरूरी

RBI ने कहा है कि डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) या अन्य प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट्स (PPI) का उपयोग करने वाले रेकरिंग ट्रांसजैक्शन के लिए अतिरिक्त फैक्टर ऑथेंटिकेशन (AFA) की जरूरत होगी और ये नियम 1 अक्टूबर से लागू हो सकता है.
अभी तक तय डेट पर बैंक और मोबाइल वॉलेट अपने आप खाते से पैसे काट लेते थे और पैसे कटने का SMS ग्राहक के पास आता था.अब ऐसा नहीं होगा. अब पहले ऑटो डेबिट या कटने वाली किस्त या बिल पेमेंट का मैसेज पहले आएगा. हर बार बैंक और मोबाइल वॉलेट को इसकी इजाजत लेनी होगी. उन्हें अपने सिस्टम में बदलाव करना होगा और हर बार परमिशन मिलने पर पैसे कटेंगे. वह अपने आप पैसे नहीं काट सकते.

प्राइवेट शराब की दुकानें बंद होंगी

नई दिल्ली में 1 अक्टूबर से लेकर 16 नवंबर तक प्राइवेट शराब की दुकानें नहीं खुलेंगी. यह नया नियम केंद्र शासित प्रदेशों की एक्साइज पॉलिसी के तहत लागू होने जा रही है. इस अवधि में केवल सरकारी शराब की दुकानें ही खुलेंगी जहां से लोग शराब खरीद सकेंगे.

पीएम किसान में कराना होगा रजिस्ट्रेशन

पीएम किसान सम्मान निधि  के पैसे अगर आप डबल उठाना चाहते हैं तो यह काम आपको फटाफट करना होगा. इसके बाद जब किस्त आएगी तो सबको 2,000 रुपये मिलेंगे, 4,000 रुपये दिए जाएंगे. अगले 3 दिन में रजिस्ट्रेशन करा लें ताकि आपको 4000 रुपये मिल सकें. दरअसल, पीएम किसान सम्मान निधि के तहत अगर आपने रजिस्ट्रेशन नहीं कराया है तो 30 सितंबर तक करा लें. ऐसे में उन्हें 4,000 रुपये मिलेंगे। उन्हें लगातार दो किस्तें मिलेंगी. यदि आपकी एप्लीकेशन स्वीकार कर ली जाती है तो अक्टूबर या नवंबर में आपको 2000 रुपये मिल जाएंगे. इसके बाद दिसंबर में भी 2000 रुपये की किस्त आपके बैंक अकाउंट में आ जाएगी.

 LPG सिलेंडरों की कीमतों में होगा बदलाव (LPG price)

1 अक्टूबर से LPG सिलेंडर की कीमतों में बदलाव आ जाएगा. बता दें कि हर महीने की पहली तारीख को घरेलू रसोई गैस और कमर्शियल सिलेंडर (LPG gas cylinder) की नई कीमतें तय की जाती हैं.

 

 998 total views,  1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *