कोरोना की नई लहर का खतरा, चीन में लॉकडाउन, यूरोप में भर चुके हैं हॉस्पिटल

Spread the love

ऐसा लग रहा है जैसे दुनिया में कोरोना की एक और लहर की शुरुआत हो चुकी है. एक ओर जहाँ चीन में दो साल बाद कोरोना के रिकॉर्ड केस दर्ज होने के बाद वहां के दो बड़े शहरों में लॉकडाउन लगाना पड़ा है. वहीं दूसरी ओर यूरोपीय देशों से खबर है कि यहां एक बार फिर कोरोना जैसे लक्षणों के साथ अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है.

एरिक टोपोल, एमडी, स्क्रिप्स रिसर्च ट्रांसलेशनल इंस्टीट्यूट के संस्थापक ने ट्वीट किया, ‘यूरोप में अगली लहर शुरू हो गई है.’ नए मरीजों का डेटा तो इसी तरफ इशारा कर रहा है. बीते सप्ताह यूके, आयरलैंड, नीदरलैंड, स्विट्जरलैंड और इटली जैसे देशों में रिपोर्ट किए गए कोविड -19 मामलों और अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजो में एक बड़ा उछाल देखा गया है.

बता दें यूरोप में विभिन्न देशों ने करीब एक माह बाद नियमों में छूट दी थी और अब केस फिर बढ़ने लगे हैं. अमेरिका में भी ऐसा ही हुआ है. अब सवाल उठाया जा रहा है कि क्या छूट देने में जल्दबाजी भारी पड़ सकती है.

चीन में एक के बाद एक शहरों में लॉकडाउन

रविवार को चीन में 3,400 कोरोना मामले सामने आने के बाद हालात भयावह हो गए हैं. इस कारण वायरस के हॉटस्पॉट की जगहों पर लॉकडाउन लगाने की नौबत आ गई है. खबरों के मुताबिक, चीन ने शेन्झेन प्रांत के 1.7 करोड़ लोगों को लॉकडाउन में कैद कर लिया है. फरवरी में 87% आबादी को पहली डोज और 40% आबादी को दूसरी डोज देने का दावा करने वाला चीन पहली बार एक दिन में 1,000 से अधिक केस की सूचना दे रहा है.

नया काम्बिनेशन वाला वायरस है बड़ा खतरा

अभी तीसरी लहर ख़त्म होने के बाद लोग रहत भी नहीं ले पाए कि विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (WHO) ने फिर से एक ओर लहर आने कि सम्भावना जताई है. विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन का कहना है कि ओमिक्रॉन और डेल्टा का रिकाम्बिनेंट वायरस फैल रहा है. संगठन की साइंटिस्ट मारिया वान करखोव ने ट्वीट किया है कि SARSCov2 के ओमिक्रॉन और डेल्टा वेरिएंट के मिलकर फैलने की आशंका है. इनका प्रसार तेजी से हो सकता है.WHO के एक नए अध्‍ययन में यह बात सामने आई है कि ओमिक्रॉन के बाद अब एक नया वेरिएंट उभर रहा है. संगठन का दावा है कि यह डेल्टा और ओमिक्रॉन वेरिएंट का मिलाजुला रूप है. ओमिक्रॉन और डेल्‍टा मिलकर एक नया वायरस बना रहे हैं. संगठन ने इस स्टडी के बारे में कहा कि इस नए काम्बिनेशन वाले वायरस को लेकर आशंका पहले से थी, क्योंकि ये दोनों काफी तेजी से फैल रहे थे.

 

 508 total views,  1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published.